पकड़ा गया महिला टीचर को अपना प्राइवेट पार्ट दिखाने वाला 9 वी का स्टूडेंट, हिरासत में आने के बाद कही यह बात

मुम्बई पुलिस की टीम ने एक टीचर की शिकायत पर कार्यवाही करते हुए राजस्थान से एक 9वी क्लास के बच्चे को हिरासत में लिया। 15 साल के इस बच्चे पर आरोप है कि यह ऑनलाईन क्लास के दौरान टीचर्स को अपना प्राइवेट पार्ट दिखाता था। आपको जानकर हैरानी होगी कि जिस लड़के को हिरासत में लिया गया है वो एक सैन्य अधिकारी का बेटा है यही नहीं वो कम्प्यूटर की भी अच्छी खासी जानकारी रखता है। रिपोर्ट्स से प्राप्त जानकारी का माने तो यह बच्चा 15 फरवरी से 2 मार्च के बीच इकोडिंग की क्लास में लड़के ने कई बार इस तरह की घटना को अंजाम दिया। गौरतलब है कि बच्चों को क्लास जॉइन करने के लिए या तो अपने नंबर की जरूरत पड़ती है या फिर ईमेल एड्रेस की। आरोपी बच्चे ने टीचर के मन में इतना दर्द भर दिया था कि वे ऑनलाइन क्लास लेने में भी सोच रही थी। 

टीचर जब बहुत ज़्यादा परेशान हो गयी तो उसने अंत में मुंबई में साकीनाका पुलिस थाने में आरोपी स्टूडेंट के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई। सर्विलांस की मदद से यह पता चल पाया कि आरोपी स्टूडेंट राजस्थान में रहता है। इसके बाद पिछले महीने पुलिस ने अपनी एक टीम को राजस्थान भेजा दिया गया। मगर इसके बाद भी काफी कोशिश करने के बावजूद भी स्टूडेंट पकड़ में नहीं आया था क्योंकि उसका लोकेशन बदल चुका था। पुलिस इस दौरान राजस्थान में ही रह कर उसकी घटना का इंतज़ार कर रही थी और 30 मई को एक बार फिर उसने यही हरकत की। इस बार उसका लोकेशन जैसलमेर में मिला। इसके बाद पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया।

पुलिस ने आरोपी लड़के के लेपटॉप की जांच की तो उन्होंने पाया कि उसने ऐसी सेटिंग कर रखी थी जिसकी वजह से पुलिस उसको ट्रैक नहीं कर पा रही थी। वहीं ऑनलाइन क्लास के दौरान वो अपना चेहरा भी नहीं दिखाया करता था, हालांकि टीचर ने उसका स्क्रीन शार्ट जरुर ले लिया था जिसमें उसका बैकग्राउंड नज़र आ रहा था। इस स्क्रीन शार्ट से जांच में काफी मदद मिली।

इन्वेस्टिगेशन की टीम ने जब आरोपी स्टूडेंट से इस तरह की हरकत को लेकर पूछताछ की तो उसने कहा कि वह यह सब बस मजे के लिए किया करता था। जिन दो महिला टीचर्स के साथ उसने यह हरकत की थी उनमें से एक मुंबई में रहती हैं तो दूसरी देश के दूसरे हिस्से में हैं। स्टूडेंट को बच्चों की अदालत में पेश किया गया और निगरानी गृह में भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.