सुशांत केस में आजतक दिखा रहा था फर्जी ट्वीट्स, अब भुगतना होगा इतने लाख का जुर्माना

न्यूज ब्रॉडकास्टिंग स्टैंडर्ड्स अथॉरिटी (NBSA) ने न्यूज़ चैनल आजतक पर दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत से संबंधित फर्जी ट्वीट प्रसारित करने पर 1 लाख रुपये का जुर्माना लगाया है। इसके साथ ही चैनल को एक माफी नामा भी प्रसारित करने का आदेश दिया गया है। जिसमें उन्हें ऑन-एयर आ कर इसके लिए माफी मांगनी होगी। 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार के अनुसार, स्व-शासित प्राधिकरण ने अपने आदेश में, 6 अक्टूबर की तारीख को आजतक के साथ ज़ी न्यूज़, न्यूज़ 24 और इंडिया टीवी से कहा कि वह असंवेदनशील रिपोर्टिंग और अभिनेता की मौत को सनसनीखेज साबित करने के लिए माफी मांगे।

NBSA ने अपना बयान जारी करते हुए कहा कि “जबकि समाचार को रिपोर्ट करना समाचार चैनल का कर्तव्य है, जो सार्वजनिक हित में हो सकता है और जिन व्यक्तियों पर रिपोर्ट की जा रही है, उन्हें इस तरह की मीडिया रिपोर्टों से न्याय मिल सकता है, समाचार को ढंग से प्रस्तुत करना भी उतना ही महत्वपूर्ण है, जिससे मृतक के परिवार की प्राइवेसी भंग ना हो। यह महत्वपूर्ण है कि मृतकों को अनावश्यक मीडिया की चकाचौंध के अधीन नहीं होना चाहिए।” 

NBSA ने तंज कसते हुए आजतक के शीर्षक “हिट-विकेट” टायटल के लिए चैनल की खिंचाई की है। NBSA के अनुसार इससे मृतक की गरिमा प्रभावित होती है। वहीं ज़ी न्यूज़ के टायटल “पटना का सुशांत, मुम्बई में फेल हो गया क्या? को इसलिए खरी-खोटी सुननी पड़ी क्योंकि इस टायटल से लगता है कि सुसाइड करना एक फ़ैलयुर है। इसके अलावा न्यूज़ 24 की हेडिंग सुशान्त तुमने अपनी फिल्म क्यों नही देखी ? पर भी आपत्ति दर्ज करते हुए कहा गया कि सुशांत की फिल्म छीछोर में आत्महत्या विरोधी संदेश का संदर्भ अपमानजनक था और दिवंगत अभिनेता की गरिमा का उल्लंघन था।

इसके अलावा आजतक और इंडिया टीवी पर सुशांत सिंह राजपूत के मृत शरीर के प्रदर्शन और अन्य ग्राफिक विवरण भी आपत्ति दर्ज हुई है। हफ़पोस्ट की रिपोर्ट है कि आजतक को टेलीकास्ट के एक हफ्ते के भीतर सीडी में माफी का सबूत पेश करना होगा।

न्यूज़ नेशन को दिवंगत अभिनेता के शरीर की छवियों को दिखाने के लिए एक चेतावनी जारी की गई थी, लेकिन चैनल द्वारा खेद व्यक्त करने के बाद उन्हें छोड़ दिया गया। इसके अलावा एनबीएसए ने एबीपी माजा को भविष्य में इसी तरह के समाचार खंडों को बंद करने की चेतावनी के साथ छोड़ दिया।

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.