राज कुंद्रा के अनुसार भविष्य में लाइव स्ट्रीमिंग की बढ़ेगी डिमांड, बताई इसके पीछे की यह वजह

बिजनेसमैन और बॉलीवुड एक्ट्रेस शिल्पा शेट्टी के पति रहज कुंद्रा इन दिनों सलाखों के पीछे हैं। उन्हें 23 जुलाई तक पुलिस कस्टडी में ही रहना होगा। उन पर आरोप है कि उन्होंने एडल्ट वीडियो बनाए और उन्हें एप्प के माध्यम से प्रासारित भी किये। पुलिस इस मामले में हर एंगल से जांच कर रही है, और आये दिन इस मामले में नए खुलासे भी होते हुए दिख रहे हैं। इसी दौरान राज कुंद्रा की एक कथित व्हाट्सएप चैट भी इन दिनों सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। ऐसे ही एक व्हाट्सएप चैट के स्क्रीन शार्ट में राज कुंद्रा लाइव स्ट्रीमिंग को भविष्य बताते हुए इसकी बढ़ती डिमांड की वजह भी बता रहे हैं। 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Raj Kundra (@rajkundra9)

राज कुंद्रा की इस कथित व्हाट्सएप चैट में एडल्ट कॉन्टेंट को ले कर काफी सारी बातचीत है। राज कुंद्रा एक मैसेज में लिखते हैं कि भविष्य लाइव स्ट्रीमिंग का ही है। इसके पीछे की वजह देते हुए राज लिखते हैं क्योंकि लाइव स्ट्रीमिंग के दौरान डाटा रिकॉर्ड करने की अनुमति नहीं होती है। वहीं सूत्रों के अनुसार पुलिस ने अभी तक की जांच में पाया कि राज कुंद्रा एडल्ट इंडस्ट्री को बॉलीवुड जितना बड़ा बनाना चाहते थे। 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Raj Kundra (@rajkundra9)

गौरतलब है कि मुम्बई पुलिस को एडल्ट कंटेंट बनाए जाने और इसे प्रासारित करने के मामले में शिकायत फरवरी में मिली थी। इसके बाद से ही पुलिस सतत इस मामले की जांच करते हुए सबूत जुटाने का काम कर रही है। और इमहिं सबूतों की बिनाफ़ पर आखिरकार 19 जुलाई की देर रात राज कुंद्रा को हिरासत में ले लिया गया। पुलिस के अनुसार इस मामले में राज कुंद्रा ही असली मास्टरमाइंड है, यही वजह है कि उन्हें इस मामले में मुख्य आरोपी बनाया गया है। मुम्बई पुलिस का यह भी कहना है कि उनके पास राज कुंद्रा को सजा दिलाने के लिए पर्याप्त सबूत भी मौजूद है। 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Raj Kundra (@rajkundra9)

अभी तक की जांच के अनुसार, राज कुंद्रा और उनके लंदन स्थित बहनोई प्रदीप बख्शी मिलकर एक मोबाइल ऐप चला रहे थे जिसमें दर्शकों को अडल्ट कॉन्टेंट परोसा जा रहा था। वायरल वॉट्सऐप चैट से यह भी सामने आया है कि राज कुंद्रा के पास सिर्फ एक यही एप नहीं था बल्कि उनके पास बॉलीफेम नाम का एक बैकअप प्लैटफॉर्म भी है। वे इस बात को अच्छी तरह से जानते थे कि वह जो कर रहे हैं वो कॉन्टेंट में नियमों का उल्लंघन कर है यह एक गैरकानूनी काम है जिसकी वजह से उनका एप कभी भी बंद हो सकता था।  

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.