एम्स फोरेंसिक टीम ने किया बड़ा दावा, सुशांत के गले पर मिले जख्म आत्महत्या के नहीं हो सकते

दो महीने से ज़्यादा समय से उलझनों फंसा सुशांत सिंह राजपूत केस अब सुलझता हुआ दिखाई दे रहा है, वहीं हर दिन इस केस से जुड़े कई हैरान करने वाले खुलासे भी सामने आ रहे हैं। इस मामले की जांच तीन प्रमुख केंद्रीय एजेंसियां कर रहीं है। वहीं इसी दरमियाँ एम्स फॉरेंसिक टीम ने कई चौका देने वाले खुलासे किए हैं। सिर्फ इतना ही नहीं उन्होंने सुशांत की पोस्टमार्टम पर भी सवाल उठाएं, इसके अलावा उन्होंने सुशांत की पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से भी पूछताछ की। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सुशान्त के गले पर जो निशान मिले हैं वो आत्महत्या के नहीं बल्कि हत्या के हैं। 

https://www.instagram.com/p/B_U1WWijwSA/?igshid=1fu44pii8z2s7

गौरतलब है कि अभी हाल ही में सीबीआई ने सुशान्त की पोस्टमार्टम की फिर से जांच करने के लिए एम्स की फॉरेंसिक टीम से मदद मांगी थी। उसी की जांच टीम कर रही थी मगर सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट को गहराई से जांचने के बाद डॉक्टरों की टीम ने जो रिपोर्ट पेश की वो पोस्टमार्टम में हुई कई तरह की गड़बड़ियों को उजागर करती है। बताया जा रहा है कि सुशान्त के गले पर जो निशान है वो एक दम बीच में है, जो एक सीधी रेखा की तरह बने हुए हैं।

https://www.instagram.com/p/B0bVgdMH2vH/?igshid=tbsmo2pmdxxe

फॉरेंसिक टीम की माने तो ऐसे निशान आत्महत्या के दौरान नहीं आते हैं। आत्महत्या करने वालों के निशान या जख्म गले के बिल्कुल ऊपर की तरफ बनते हैं। यह निशान एक दम तिरछे दिखते हैं, ऐसे जैसे कोई खरोच हो। इन्हीं सवालों के जवाब जानने के लिए एम्स फॉरेंसिक टीम ने सुशांत का पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से पूछताछ की।

https://www.instagram.com/p/BwVoVmEFBsN/?igshid=1qcjww5jgf0jj

एम्स फॉरेंसिक टीम के डॉक्टर्स ने पोस्टमार्टम करने वाले डॉक्टरों से पूछा कि सुशांत की हत्या को लेकर जो खबरें अभी चल रहीं हैं उनका उत्तर आप कैसे दे पाओगे। जिस कपड़े का उपयोग सुशांत ने फांसी लागाने के लिए किया था जैसा कि आपने रिपोर्ट में लिखा है, वो जख्म हरे कुर्ते से कैसे पैदा हो सकते हैं। सुशांत के गले पर इन निशानों को लेकर डॉक्टर की क्या राय है, इसका जवाब भी फॉरेंसिक टीम ने मांगा है।

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.