चचेरे भाइयों ने ही किया अपनी बहनों के साथ जानवरों से भी बुरा बर्ताव, इंटरनेट पर सर्क्युलेट हुआ वीडियो

मध्यप्रदेश से लगातार महिलाओं पर ज्यादाति के मामले सामने आ रहे हैं। अभी हाल ही में अलीराजपुर में हुई घटना के दाग प्रदेश के दामन से मद्धे हुए ही नहीं थे कि धार जिले के टांडा थाना के तहत ग्राम पीपलवा में एक ऐसी अप्रिय घटना हो गई जिसने प्रदेश में महिलाओं की स्थिति की पोल खोल कर रख दी। शासन और कानून को ताक पर रखते हुए यहां ग्रामीणों ने लाठी और डंडे का इस्तेमाल कर दो युवती के साथ ऐसा बरताव किया जैसा जानवरों के साथ भी नहीं होता। वीडियो जब वायरल हुआ तो कानून कर रहनुमाओं की आंखे खुली और मामला दर्ज कर लिया गया। पुलिस ने मामले में कार्यवाही करते हुए 7 लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है।

महिलाओं के साथ इस क्रुरता का जो वीडियो सोशल मीडिया और वायरल हो रहा है वो धार जिले के पीपलवा ग्राम का है। अभी तक प्राप्त जानकारी के अनुसार युवतियों के साथ इस तरह का बर्ताव करने वाले और कोई नहीं बल्कि उसके ही रिश्ते के चचेरे भाई हैं। वीडियो में दर्द से कहराती युवतियों की चीख किसी भी इंसान के दिल में करुणा भर सकती है, मगर इंसान से जानवर में तब्दील हो चुके यह लोग युवतियों पर जरा भी रहम नहीं खाते हैं। युवतियां पूरे वीडियो में उस चीज़ की भीख इन दबंगों से मांगती रही जिसकी वे हकदार है, चेन से जीने के लिए गिड़गिड़ाती यह लड़कियां लोकतांत्रिक राष्ट्र में मिले आम नागरिकों के मौलिका अधिकारों पर एक बड़ा प्रश्न चिन्ह है। 

युवतियों के साथ इस तरह का बर्ताव करने में सिर्फ पुरुषों का ही हाथ नहीं है, बल्कि वहां मौजूद महिलाएं भी ना सिर्फ इस जुर्म को देखने वाली तमाशबीन रही बल्कि इस बर्बरता की हिस्सेदार भी बनी। हैरानी की बात तो यह भी है कि ‘वासुदेव कुटुंब कंब’ जैसी बड़ी बातें करने वाला हमारा समाजा और इस गांव कर लोग पूरे मामले का वीडियो बनाते रहे मगर किसी ने भी इन युवतियों की मदद करने की ज़हमत नहीं उठाई। 

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.