सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त गणेश और अंकित ने कि दिल्ली में भूख हड़ताल, धारा 302 की हो रही है मांग

आज 2 अक्टूबर यानी गांधी जयंती के मौके पर गांधीजी के सत्याग्रह आंदोलन की ही तरह दिल्ली के जंतर मंतर पर सुशांत सिंह राजपूत को इंसाफ दिलाने के लिए प्रोटेस्ट किया जा रहा है। इस प्रोटेस्ट के लिएसु शांत के दोस्त गणेश हिवारकर और एक्स मैनेजर अंकित आचार्य मुंबई से दिल्ली आए हैं। ये दोनों ही प्रोटेस्ट करने के साथ ही विरोध में भूख हड़ताल भी रखेंगे। इन दोनों के अलावा सुशांत के काफी सारे फैन्स भी विरोध प्रदर्शन में शामिल हो रहे हैं। कल गणेश और अंकित ने एक टीवी चैनल के माध्यम से सुशांत के फैंस से अपील की थी कि,वह सुशांत को न्याय दिलाने की इस लड़ाई में उनका साथ दें और जंतर मंतर पर हो रहे प्रोटेस्ट का हिस्सा बने।आपको बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत को 3 महीने से ज्यादा हो चुके हैं और अभी तक सीबीआई का इस केस की जांच को लेकर कोई बयान सामने नहीं आया है। जांच में हो रही इस देरी की वजह से ही ये प्रोटेस्ट किया जा रहा है। गणेश और अंकित की मांग है की जांच मर्डर केस की तरह की जाए।

धारा 302 के एंगल से जांच की हो रही है डिमांड

सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त गणेश ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि सुशांत के केस की जांच सीबीआई को आईपीसी की धारा 302 यानी मर्डर के ऐंगल से करनी चाहिए और केस की जांच की दिशा को बदलने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि सीबीआई की टीम को केस के अपडेट्स भी देने चाहिए और अभी केवल एनसीबी अपनी जांच के बारे में अपडेट्स दे रही है। सीबीआई ने अभी तक इस केस में कोई अपडेट नहीं दिया है जिसकी वजह से सुशांत के फैंस और परिवार वाले नाराज हैं। आपको बता दें कि कुछ दिनों पहले भी सुशांत के पिता के वकील ने बयान दिया था कि एनसीबी केवल बॉलीवुड में ड्रग्स कनेक्शन को खंगाल रही है। जिसकी वजह से सुशांत का केस बैकसीट पर चला गया है जिसकी वजह से सुशांत का परिवार नाराज है।

सुशांत की बहन ने फैंस से प्रोटेस्ट में शामिल होने की अपील की

https://twitter.com/shwetasinghkirt/status/1311888080287092740?s=19

 सुशांत सिंह राजपूत के लिए होने वाले इस प्रोटेस्ट की जानकारी मिलते ही दिल्ली पुलिस ने जंतर मंतर पर पहले से ही सिक्यॉरिटी बढ़ा दी थी। इस प्रोटेस्ट में शामिल होने के लिए सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने भी फैन्स से अपील की थी। उन्होंने ट्वीट कर लिखा, ‘आज जंतर मंतर पर कैंपेन को जॉइन करें और सपोर्ट करें… ध्यान रखें मास्क जरूर लगाए, सोशल डिस्टेंसिंग और स्थानीय कानूनों का पालन करें। आइए, सही सवाल उठाते हैं और सही के लिए खड़े होते हैं।’ अंकित और गणेश शुरुआत से ही या बयान दे रहे हैं कि सुशांत सिंह राजपूत ने आत्महत्या नहीं की है बल्कि उनका मर्डर किया गया है। आपको बता दे कि अंकित आचार्य सुशांत के साथ चौबीसों घंटे ही रहा करते थे। लेकिन रिया चक्रवर्ती ने उनके पूरे स्टाफ को चेंज कर दिया था। 

एम्स ने उठाए है रिपोर्ट में इन बातों पर सवाल

बता दें कि एम्स के फॉरेंसिक विभाग ने सुशांत की मौत के मामले में सीबीआई को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। एम्स ने ऑटोप्सी रिपोर्ट में मौत का समय दर्ज न होने पर सवाल उठाया है, साथ ही कूपर हॉस्पिटल में हल्की रोशनी वाले पोस्टमार्टम रूम की ओर भी इशारा किया गया है। सूत्रों ने यह जानकारी दी है। सूत्र के मुताबिक, सुशांत सिंह राजपूत  की मौत किसी जहरीली चीज के सेवन से हुई- इस एंगल को भी खारिज कर दिया गया है।

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.