पूछताछ में भारती सिंह ने स्वीकार की ड्रग्स के सेवन की बात, बोली – हर्ष खरीद कर लाए थे फिर..

शनिवार को एनसीबी ने मशहूर कॉमेडियन भारती सिंह और उनके पति हर्ष लिंबाचिया की गिरफ्तारी की है। बॉलीवुड के बाद अब टीवी इंडस्ट्री के दो बड़े सितारों की गिरफ्तारी से सब लोग हैरान हैं। बता दे कि एक ड्रग पेडलर से पूछताछ के दौरान भारती सिंह का नाम सामने आया था। एनसीबी ने शक के आधार पर भारती के घर और ऑफिस पर छापेमारी की जहां से उन्हें गांजा बरामद हुआ है।

बता दे कि पूछताछ के दौरान हर्ष और भारती ने गांजे के सेवन की बात स्वीकार कर ली है। भारती ने बताया है कि, गांजा उनके पति हर्ष ने खरीदा था। जिसके बाद उन्होंने भी उनके साथ गांजे का सेवन किया है। बता दे कि एनसीबी ने हर्ष और भारती को 4 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। सोमवार को दोनों अपनी जमानत के लिए कोर्ट में अर्जी देंगे।

हर्ष लेकर आए हैं गांजा

भारती सिंह की गिरफ्तारी शनिवार करीब 3:00 बजे हुई है। भारती ने पूछताछ के दौरान बताया है कि, उनके पति हर्ष गांजा खरीद कर लाए थे। जिसके बाद उन्होंने भी गांजे का सेवन किया है। वहीं भारती की गिरफ्तारी के बाद करीब 15 घंटे तक हर्ष से पूछताछ हुई है। पूछताछ के दौरान हर्ष ने खुलासा किया है कि, वह बहुत समय से ड्रग पेडलर के कांटेक्ट में थे।

वह अक्सर ड्रग्स खरीदा करते थे। हर्ष ने यह बात भी स्वीकार की है कि उन्होंने अपने ऑफिस और घर में भी कुछ मात्रा में ड्रग्स रखे हुए थे। वही ड्रग्स एनसीबी को छापेमारी के दौरान मिले हैं। हर्ष के बयान दर्ज होने के बाद उन्हें एनडीपीएस एक्ट के तहत शनिवार देर रात गिरफ्तार कर लिया गया है।

घर और ऑफिस दोनों जगह हुई छापेमारी

बता दें कि हाल ही में गिरफ्तार हुए एक 21 वर्षीय ड्रग पेडलर से पूछताछ के दौरान भारती और हर्ष का नाम सामने आया है। ड्रग पेडलर के फोन की जांच में भी उसका हर्ष और भारती से कनेक्शन मिला है। जिसके बाद  एनसीबी ने तुरंत एक्शन लेते हुए दोनों के ऑफिस और घरों पर छापेमारी की है। छापेमारी में घर और ऑफिस से 86.5 ग्राम गांजा बरामद किया गया है। वही पूछताछ के दौरान हर्ष लिंबाचिया ने बताया है कि, वह गांजा उन्होंने खुद ड्रग पेडलर से खरीदा है। हालांकि  एनसीबी अधिकारियों के मुताबिक यह मात्रा कम है।

वकील ने किया है गिरफ्तारी का विरोध

बता दे की गिरफ्तारी के बाद हर्ष और भारती का मेडिकल टेस्ट हुआ है। मेडिकल टेस्ट के बाद दोनों की पेशी कोर्ट में की गई। पेशी के दौरान भारती और हर्ष के वकील ने दलील देते हुए कहा है कि, हर्ष और भारती के घर से जो ड्रग्स मिले हैं उनकी मात्रा बहुत कम है। एनडीपीएस एक्ट के तहत इस मामले में 1 साल तक की जेल होती है। वही दोनों ने पहले ही ड्रग्स का सेवन करने की बात कबूल कर ली है। जब दोनों के बयान दर्ज हो चुके हैं। तो फिर उन्हें न्यायिक हिरासत में नहीं भेजा जाना चाहिए। वकील ने यह भी कहा कि, यह मामला केवल ड्रग्स के सेवन का है ड्रग पेडलिंग जैसी कोई बात सामने नहीं आई है। इसीलिए दोनों को जमानत मिल जानी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.