सुशांत मामले में करण जौहर और सलमान के पास नहीं है कोई जवाब, कोर्ट से मांगा समय, 5 प्रोड्यूसर्स के बयान दर्ज

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के केस की जांच देश की सबसे बड़ी जांच एजेंसी सीबीआई कर रही है। हालांकि अभी तक सीबीआई इस केस में किसी भी नतीजे पर पहुंच नहीं पाई है। बता दे कि वकील सुधीर कुमार मिश्रा ने 17 जून को सीजीएम के कोर्ट में एक याचिका दाखिल की थी। जिसमें उन्होंने बॉलीवुड के कुछ बड़े प्रोड्यूसर्स को इस मामले में जिम्मेदार ठहराया था। उनकी यह याचिका स्थानीय कोर्ट में खारिज हो गई थी।

इसके बाद उन्होंने 14 अगस्त को डिस्ट्रिक्ट कोर्ट में फिर से याचिका दाखिल की। इसी के चलते शनिवार को इस मामले में पांच बड़े प्रोड्यूसर्स के जवाब दर्ज किए गए हैं। जबकि करण जौहर और सलमान खान ने कोर्ट से इसके लिए अगली डेट की मांग की है। जिसके बाद कोर्ट ने दोनों को 9 जनवरी तक अपने जवाब दर्ज करने के लिए कहा है। 

इन प्रोड्यूसर्स के जवाब हुए दर्ज

बता दे कि सुधीर कुमार मिश्रा द्वारा दायर की गई याचिका के बाद कोर्ट ने सभी प्रोड्यूसर्स को उनके स्टेटमेंट दर्ज कराने के लिए कहा था। इसी के चलते शनिवार को संजय लीला भंसाली, एकता कपूर, गुलशन कुमार, साजिद नाडियावाला, दिनेश विजयन ने अपने स्टेटमेंट दर्ज कराएं है। बता दें कि सलमान और करण जौहर किसी वजह से अपनी स्टेटमेंट्स दर्ज नहीं करवा पाए हैं। जिसके लिए उनके लॉयर्स ने कोर्ट से समय की मांग की। कोर्ट ने दोनों को टाइम देते हुए अगली सुनवाई के लिए 9 जनवरी की डेट दी है। दोनों को 9 जनवरी तक अपने बयान कोर्ट में दर्ज कराने हैं। 

लगाए थे यह आरोप

बता दे कि सुशांत सिंह राजपूत के अचानक सुशांत के चले जाने के बाद सुधीर कुमार मिश्रा ने बॉलीवुड के बड़े प्रोड्यूसर्स को इस मामले में जिम्मेदार ठहराते हुए याचिका दायर की थी। उनके मुताबिक ये सभी बड़े प्रोड्यूसर्स सुशांत को प्रताड़ित कर रहे थे। उनके मुताबिक इन सभी ने सुशांत को आत्महत्या के लिए उकसाया है। जिसकी वजह से उन्होंने इतना बड़ा कदम उठाया।

उन्होंने यह याचिका 17 जून को दर्ज कराई थी लेकिन कोर्ट ने इसे बाहरी क्षेत्र का मामला बताते हुए खारिज कर दिया। जिसके बाद सुधीर कुमार मिश्रा ने 14 अगस्त को फिर से डिस्ट्रिक्ट जज के कोर्ट में याचिका दायर की। डिस्ट्रिक्ट जज ने इस मामले को एडीजे के कोर्ट में ट्रांसफर कर दिया है। वहीं पर इस मामले में आगे सुनवाई की जा रही हैं। 

नेपोटिज्म का उठा था मुद्दा

बता दे कि बहुत से लोगों ने इस मामले को नेपोटिज्म का मुद्दा भी बताया। लोगों का मानना था कि सुशांत सिंह राजपूत से बहुत सी फिल्में नेपोटिज्म की वजह से छीनी जा रही थी। हाफ गर्लफ्रेंड जैसी कई फिल्मों की अनाउंसमेंट के बाद उनकी जगह किसी स्टार किड को ले लिया गया। इस वजह से भी सुशांत सिंह राजपूत बहुत परेशान रहते थे।

वहीं उनकी सफलता को देखकर बहुत से बड़े प्रोड्यूसर उन्हें मेंटली हरास करने लगे थे। टीवी से अपने करियर की शुरुआत करने के बाद उन्हें बॉलीवुड में पूरी तरह से एक्सेप्टेंस नहीं मिल पा रही थी। उन्होने खुद भी अपने बहुत से इंटरव्यूज में बताया है कि उन्हें कोई भी पार्टी में इनवाइट नहीं करता है। न ही उन्हें अब तक कोई अवार्ड दिया गया है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.