करीना के पिता रणधीर कपूर बेचने जा रहे हैं अपना पुश्तैनी मकान, ऋषि और राजीव को ले कर कही यह बात

मुम्बई के कोकिलाबेन अस्पताल के ICU में भर्ती रणधीर कपूर ने हाल ही में अपने स्वास्थ्य को ले कर जानकारी फैंस को दी। कहा जा रहा है कि फिलहाल रणधीर कपूर के स्वास्थ्य में सुधार देंखने को मिल रहा है। रणधीर के साथ उनकी स्टॉप के 5 और सदस्य पॉजिटिव पाए गए हैं, उनका इलाज भी इसी अस्पताल में किया जा रहा है। रणधीर ने इसी दौरान एक बड़ा ऐलान कर दिया है, जिसकी वजह से सब हैरान है। दरअसल रणधीर कपूर अपना चैंबूर वाला पुश्तैनी घर बेचने जा रहे हैं। बता दें कि रणधीर कपूर अपने भाइयों के साथ यहीं बड़े हुए हैं। 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Tadka Bollywood (@tadka_bollywood_)

जब रणधीर कपूर से इस घर को बेचने की वजह पूछी गयी तो उन्होंने बताया कि राजीव कपूर के गुजरने के बाद वे इस घर में अब काफी अकेलापन महसूस कर रहे हैं। लिहाजा वे इस घर को बेच कर अपने परिवार वालों के साथ रहना चाहते हैं। रणधीर ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि भाई राजीव कपूर का भले ही पुणे में घर था मगर इसके बाद भी वे ज़्यादातर समय उनके साथ ही गुजारते थे। राजीव के जाने के बाद उनको काफी अकेलापन महसूस हो रहा है। इसलिए अब वे सोच रहें हैं कि अपना बाकी का समय वे अपने परिवार के साथ ही बिताएं।

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Bollywood Bubble (@bollywoodbubble)

वहीं इस पुश्तैनी घर को ले कर रणधीर कपूर का कहना है कि मेरे पिता ने मुझसे कहा था कि मैं जितना समय चाहूं उतना समय इस घर में गुज़ार सकता हूँ। मगर जब मैं इस घर को बेचूंगा तो मुझे इससे मिले पैसे अपने दोनों भाइयों राजीव और ऋषि कपूर तथा अपनी बहन रिमा जैन के साथ इन पैसों को बाटूं। गौरतलब है कि रणधीर कपूर ने पहले ही शिफ्टिंग की पूरी तैयारी कर ली है, उन्होंने बांद्रा में अपने लिए घर भी खरीद लिया है। वे जल्द ही अपने नए घर में शिफ्ट होने वाले हैं। 

गौरतलब है कि इससे पहले रणधीर कपूर और उनकी बहन रिमा जैन ने अपने भाई राजीव कपूर की संपत्ति पर अपना हक दर्ज करते हुए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था। जिस पर कोर्ट ने सुनवाई करते हुए कहा है कि अगर उन्हें सम्पत्ति का हक चाहिए तो राजीव कपूर के तलाक के कागज कोर्ट में पेश करने होंगे। 

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Randhir Kapoor (@dabookapoor)

हालांकि कपूर परिवार के पारिवारिक वकील ने कोर्ट में दलील पेश की कि राजीव की शादी 2001 में आरती सबरवाल नाम की महिला से शादी की थी मगर 2003 में इन दोनों को तलाक हो गया था, हालांकि उनके पास इसके कोई कागज नहीं है लिहाजा उन्हें इसकी छूट दे दी जाए। जिस पर कोर्ट ने कहा था कि वे अगर कागज पेश नहीं कर पाए तो आरती सबरवाल से एक स्वीकृति पत्र पर साइन करवा कर लाये ताकि भविष्य में इस मामले में कोई विवाद की स्थिति ना बने। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.