NCB को ऊपर से लगी फटकार, ड्रग मामले में सुशांत की छवि खराब करने के बाद दिए यह निर्देश

दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत केस में जांच करते हुए जब ड्रग एंगल की परत खुलने लगी, तो मामला नारकोटिक्स डिपार्टमेंट के हाथों सौंप दिया गया। इसके बाद एजेंसी ने ताबड़तोड़ तरीके से कार्यवाही करना शुरू किया और एक के बाद एक करके कई गिरफ्तारी की। जिसमें सुशांत सिंह राजपूत की अंतिम प्रेमिका रिया चक्रवर्ती और उसका भाई शौविक चक्रवर्ती का भी नाम है। वहीं इस जांच में एक बड़ी बात सामने आई जिसमें कहा गया कि इससे सुशांत सिंह राजपूत की छवि खराब हो रही है।

 जिसके बाद नारकोटिक्स डिपार्टमेंट को ऊपर से निर्देश मिले हैं कि जांच में सावधानी बरतें और अभी तक हुए नुकसान की भरपाई करे।  वहीं इस जांच में तीन मशहूर अभिनेत्रियां सारा अली खान, दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर के खिलाफ एनसीबी को कोई सबूत नहीं मिल पाया है। जिस कारण उनको आरोपी साबित नहीं किया जा सकता। 

कहा जा रहा है कि नारकोटिक्स डिपार्टमेंट की जांच की वजह से सुशांत सिंह राजपूत की छवि पर गहरा असर पड़ रहा है। मृत्यु के पहले जहां सुशांत की छवि एक सुपरस्टार और विनम्र व्यक्ति की थी वहीं निधन के बाद उन्हें ड्रगी और नशेड़ी करार दिया जाने लगा। गौरतलब है कि सुशांत का झुकाव अध्यात्म की और था वो आये दिन भजन गाते हुए नज़र आते थे। मगर जब से एजेंसी ने सारा, श्रद्धा और दीपिका से पूछताछ की है उनकी एक अलग छवि देश के सामने निर्मित हो रही है जिससे उनके चाहने वाले निराश हैं। वहीं तीनो अभिनेत्रियों के खिलाफ जांच एजेंसी को कोई सबूत नहीं मिले हैं।

NCB के अलावा सीबीआई जांच से भी परिवार संतुष्ट नहीं है। हालांकि दिवंगत अभिनेता के गुज़र जाने के बाद से ही उनके परिवार वाले सीबीआई जांच की मांग कर रहे थे, मगर वर्तमान में चल रही जांच से वो खुश नहीं है। मामला अब ड्रग एंगल पर अटक कर रह गया है और यही बात परिवार वालों को पसंद नहीं आ रही है, इसी सिलसिले में सुशांत के पिता केके सिंह कल बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से भी मिलने गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.