NCB ने बताया रिया को शातिर अपराधी, कहा- सुशांत को ड्रग के जाल में फंसाने के लिए आई थी उनके पास

नारकोटिक्स डिपार्टमेंट ने जेल में बंद रिया चक्रवर्ती और उनके भाई शौविक चक्रवर्ती की जमानत याचिका का विरोध किया है। बॉबे हाईकोर्ट में जमानत याचिका पर दिए हलफनामे ने NCB ने बताया कि रिया और शौविक कोई मासूम नहीं बल्कि अपराधी है। सुशान्त सिंह राजपूत को ड्रग के जाल में फंसाने के लिए ही रिया ने उनसे नजदीकियां बढ़ाई है। गौरतलब है कि मंगलवार के दिन मुम्बई हाईकोर्ट में रिया की जमानत पर 7 घंटे तक बहस चली। फिलहाल कोर्ट ने मामले के सभी पक्षों को सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित कर लिया है। 

नारकोटिक्स डिपार्टमेंट ने रिया पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि रिया अपने पुरे होंशो हवास में योजनाबद्ध तरीके से ड्रग का बिजनेस करती थी। वो एक हाईफाई ड्रग लिंक का हिस्सा थी जिसमें कई जाने माने कलाकार और ड्रग पैडलर्स शामिल हैं। इसके साथ ही रिया पर यह भी आरोप है कि वो सुशांत की ड्रग की लत को बंद करने की बजाए उसे बढ़ावा देती थी। रिया के आने के बाद ही सुशांत ड्रग के आदि हुए हैं।

सुशांत को दिया धोखा 

नारकोटिक्स डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने अपनी जांच में यह पाया कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत के हर एक पहलू खंगालने के बाद इस निष्कर्ष पर पहुंचा जा सकता है कि रिया को यह बात अच्छे से पता थी कि सुशांत ड्रग का सेवन करते हैं। मगर इसके रोकथाम के उपाय करने के बजाए रिया ने हमेशा उन्हें इसके लिए बढ़ावा दिया सिर्फ इतना ही नहीं उनसे पूरी सच्चाई भी छुपाई। 

रिया चक्रवर्ती है शातिर अपराधी

बतौर नारकोटिक्स डिपार्टमेंट रिया चक्रवर्ती एक शातिर अपराधी है। इसलिए उसे जामनत नहीं मिलनी चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि उनके पास रिया के खिलाफ वो पुख्ता सबूत हैं जो यह साबित करते हैं कि रिया ड्रग रैकेट का एक सक्रिय हिस्सा थीं। इसके अलावा कोर्ट से NCB ने कहा कि फिलहाल जांच आओए निर्णायक स्तर पर चल रही है। ऐसे में रिया को अगर जमानत दी गयी तो इससे केस पर प्रभाव पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.