‘पैड पीआर’ कर रहा है सुशांत की दोस्त को परेशान, आवाज को दाबाने की हो रही है कोशिश

सुशांत की दोस्त स्मिता का आरोप है कि ‘पैड पीआर’ उसे निशाना बना रहा है

ट्विटर पर, सुशांत की दोस्त स्मिता ने लिखा कि ‘पैड पीआर’ काफी समय से इस इंसाफ की आवाज को दबाने की कोशिश में लगा हुआ है। उसने केंद्रीय जांच ब्यूरो के साथ अपनी घोषणा दर्ज की थी जो वर्तमान में सुशांत के मामले की जांच कर रही है। इस पर प्रकाश डालते हुए, उसने लिखा कि अब उसे बंद करने का कोई कारक नहीं था, क्योंकि वह पहले ही जांच अधिकारी को सबूत दे चुकी थी। सुशांत के खिलाफ बोलने वालों को उन्होंने कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि वक्त आने पर सब जवाब मिल जाएंगे।

इसके साथ ही स्मिता पारिख ने अतिरिक्त रूप से सुशांत मामले पर फर्जी जानकारी फैलाने वालों पर भी अपना गुस्सा व्यक्त किया। उन्होंने लिखा कि नकली जानकारी और वीडियो को बढ़ावा देने वालों के कजिलाफ़ आवाज उठाएं जरूरत पड़े तो सीबीआई से सपंर्क करें। स्मिता ने लिखा कि वह उन्हें सीबीआई में उस घटना में शामिल करने के लिए तैयार थीं, जिसके सबूत उनके पास थे, जैसा कि वे वीडियो में दावा कर रही थीं। उनके अनुसार उन्होंने SSRians को अलग करने के लिए इस तरह की साजिश रची थी।

सुशांत के लिए न्याय मांग रही है स्मिता पारिख

स्मिता पारिख अपने दोस्त सुशांत के लिए न्याय ’के संघर्ष में अपनी आवाज बुलंद करने के लिए मुखर रही हैं। सीबीआई को दिए अपने बयान के अलावा, समाचार चैनलों पर ट्वीट और टिप्पणी के अलावा, उन्होंने इन दिनों कोलकाता में विरोध रैली में भाग लिया, जो इससे पहले पटना और वाराणसी में आयोजित किया गया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.