भारत की वजह से ‘फटी’ पड़ी थी पाकिस्तान की, विदेश मंत्री ने डरते हुए कहा था अल्लाह के वास्ते अभिनंदन को छोड़ दो नहीं तो…

बॉर्डर पर सालों से भारत और पाकिस्तान की जंग जारी है। दोस्ती और समझौते की लाख कोशिशों के बावजूद दोनों देशों के बीच में तनाव कम होता नहीं दिखाई देता है। लेकिन पिछले साल पाकिस्तान की तरफ से ऐसा कुछ हुआ जिसकी कल्पना भी किसी ने नहीं की थी। पाकिस्तान ने पिछले साल मार्च में भारतीय वायु सेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान को आजाद कर दिया था।

उस वक्त यह कयास लगाए जा रहे थे कि पाकिस्तान भारत से कोई जंग नहीं चाहता हैं इसीलिए उन्होंने पूरी इज्जत के साथ विंग कमांडर को रिहा कर दिया। वहीं कुछ लोगों का मानना था कि पाकिस्तान ने यह कदम किसी साजिश के तहत उठाया है। अब पाकिस्तान की सियासी पार्टी पीएमएल-एन के सांसद अयाज सादिक ने अभिनंदन की रिहाई को लेकर खुलासा किया है। उन्होने बताया कि, तब विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने दावा किया था कि भारत पाकिस्तान पर हमला करने वाला है। इसलिए अभिनंदन को छोड़ना जरूरी था।

इमरान खान नहीं थे बैठक में मौजूद

अयाज सादिक ने देश की संसद ने अभिनंदन की रिहाई को लेकर चर्चा की। उन्होंने बताया कि जब अभिनंदन पाकिस्तान की गिरफ्त में थे तब विदेश मंत्री एसएम कुरैशी ने पीपीपी, पीएमएल-एन और सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा सहित संसदीय नेताओं के साथ इस मामले को सुलझाने के लिए बैठक की थी। उन्होंने यह भी बताया कि इस बैठक में प्रधानमंत्री इमरान खान ने आने से मना कर दिया था। उस बैठक में एसएम कुरैशी ने विपक्ष दल के नेताओं से कहा था कि उन्हें अभिनंदन और बाकी मुद्दों पर सरकार का साथ देना चाहिए। 

9:00 बजे तक कहीं थी हमले की बात

https://twitter.com/NooriBadat/status/1321679137359106051?s=19

अयाज सादिक ने यह भी बताया कि, इस बैठक के दौरान कुरैशी के पैर कांप रहे थे, वह इतने परेशान हो गए थे कि उनके माथे पर पसीना आ गया  था। कुरैशी ने कहा था कि, खुदा का वास्ता अब अभिनंदन को वापस जाने दें। क्योंकि अगर पाकिस्तान ऐसा नहीं करता है तो 9 बजे रात को हिंदुस्तान पाकिस्तान पर हमला कर देगा। अयाज ने आगे यह भी बताया कि, उस वक़्त हिंदुस्तान का पाकिस्तान पर हमला करने का कोई इरादा नहीं था। सरकार को सिर्फ घुटने टेककर अभिनंदन को रिहा करना था जो उन्होंने किया। 

अभिनंदन का विमान हुआ था क्रैश

 पिछले साल भारत ने बालाकोट में आतंकी कैंप पर हमला किया था। जिससे बौखला कर पाकिस्तान ने अपने फाइटर जेट भेजकर भारत में हमले किए। उनके इसी हमले के जवाब में वर्धमान ने मिग-21 लेकर उड़ान भरी। लेकिन दुर्भाग्यवश उनका विमान क्रैश हो गया और वह PoK में जा गिरे। उन्हें पाक सैनिकों ने पकड़ लिया था। पूछताछ के दौरान पाक आर्मी ने उन्हें चाय पीने को दी थी और इसका विडियो शेयर कर दुनियाभर को दिखाने की कोशिश की गई थी कि वह अभिनंदन की कैसी खातिरदारी कर रहे हैं।

सच्चाई तो यह थी कि आईएसआई और पाक सैनिक उनके साथ माइंड गेम खेलने की कोशिश कर रहे थे, लेकिन अभिनंदन दुश्मनों के बीच भी नहीं टूटे और भारतीय सेना की कोई भी खुफिया जानकारी उन्हें नहीं दी। अभिनंदन को 1 मार्च को अटारी-वाघा सीमा से भारत लौटाया गया था।

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.