शिव सेना के मंत्री के ट्वीट पर बवाल, मौत के एक दिन पहले सुशांत के घर पार्टी होने के दिए थे संकेत

क्या सुशान्त सिंह राजपूत के घर मौत के एक दिन पहले किसी तरह का जमावड़ा या पार्टी हुई थी? दरअसल अभिनेता की मौत के बाद से किसी तरह की पार्टी होने का दावा किया जा रहा था,वहीं दोनों दिनों के सीसीटीवी फुटेज को भी जांच एजेंसी खंगाल रही है। हालांकि सुशांत के फ्लैट मैट सिद्धार्थ पीठानी तथा उनके एक पड़ोसी ने किसी भी तरह की पार्टी होने की बात से इनकार किया था। वहीं अब भारतीय जनता पार्टी के नेता नितेश राणे ने शिवसेना नेता और महाराष्ट्र के मंत्री अनिल परब के एक ट्वीट को ढूंढ कर वहां लोगों के इक्कट्ठा होने पर सवाल उठाए हैं। 

बीजेपी नेता नीतेश राणे ने अनिल परब से 31 जुलाई के उनके ट्वीट पर सवाल करते हुए एक ट्वीट किया है। इस ट्वीट में शिव सेना नेता ने मांग की थी जो भी लोग इस पार्टी में शामिल थे वे इसका विवरण पुलिस को दे कर उनकी मदद करें। इसके साथ ही उन्होंने यह भी सवाल किया कि लॉकडाउन के दौरान सुशांत के घर पर एक पार्टी कैसे हो सकती है?

मराठी में लिखे इस ट्वीट के स्क्रीनशॉट को साझा करते हुए राणे ने पूछा कि परब किस पार्टी के बारे में बात कर रहे थे और उन्हें इसके बारे में क्या पता था जो मौत की जांच में मदद कर सकता है। वहीं महाराष्ट्र के विधायक राणे ने यह भी कहा कि क्या परब अपने ट्वीट से यह संकेत देना चाहते थे कि वे एक पूर्व अभिनेता की बात कर रहे हैं, जिसे कोरोना काल में बहुत से कॉन्ट्रैक्ट मिले थे। इसके साथ ही उन्होंने मोबाइल टावर ट्रेस कर उन लोगों का विवरण भी मांगा जो उस रात सुशांत की पार्टी में थे। 

राणे ने 14 जून की सुबह एक मंत्री के काफिले को जॉगर्स पार्क के आसपास एक ‘चर्चा’ होने की बात कही। राणे के अनुसार परब को आगे आ कर देश को अपनी इन बातों को समझाना चाहिए। क्योंकि सुशांत के पडोसियों ने दावा किया था कि उस रात सुशांत के घर कोई पार्टी नहीं हुई थी, और लाइट भी रोज़ की अपेक्षा जल्दी बंद कर दी गयी थी। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.