क्रिकेट जगत से दुखद खबर : नहीं रहे भारतीय ऑलराउंडर जड़ेजा, कोच रवि शास्त्री ने की पुष्टि

हाल ही में भारतीय टीम के कोच रवि शास्त्री ने एक ट्वीट करते हुए भारतीय टीम के दिवंगत ऑलराउंडर राजेन्द्र सिंह जडेजा के चले जाने पर शोक व्यक्त किया है। बता दें कि राजेन्द्र सिंह जड़ेजा कभी सौराष्ट्र की तरफ से क्रिकेट खेला करते थे बाद में वे भारतीय नियंत्रण क्रिकेट बोर्ड यानी बीसीसीआई (BCCI) के रेफरी बन गए। उनकी उम्र 66 साल थी संक्रमण की वजह से रविवार के दिन उन्होंने अपनी आखरी सांस ली। जड़ेजा की गिनती घरेलू क्रिकेट के बेहतरीन ऑलराउंडर्स में की जाती है, वे कमाल की स्विंग बॉलिंग करने में माहिर थे। जड़ेजा ने 1974 से 1987 तक यानी 13 साल प्रोफेशनली क्रिकेट खेला और 22 गज की पिच पर अपनी उपस्थिति दर्ज कराई। जड़ेजा के जाने पर दुखी रवि शास्त्री ने कहा मैंने अपना दोस्त खो दिया। 

भारतीय टीम के हेड कोच रवि शास्त्री ने जड़ेजा के जाने पर शोक व्यक्त करते हुए लिखा – “निरलोंस मुंबई और वेस्‍ट जोन के साथी और इतने सालों से दोस्‍त रहे राजू जडेजा को खोना बेहद दुखद है। वो वास्‍तविक जेंटलमैन थे, ईश्‍वर उनकी आत्‍मा को शांति दें।” गौरतलब है कि राजू जड़ेजा के ही हाथों में लंबे वक्त से सौराष्ट्र के तेज गेंदबाजी आक्रमक की कमान थी। इसके अलावा उन्होंने बांबे के लिए कॉरपोरेट क्रिकेट भी खेला वहीं दिलीप ट्रॉफी में उन्हें वेस्ट जोन की तरफ से अपने हाथ आजमाने का मौका मिला।

राजेंद्रसिंह जडेजा के करियर की बात करें तो उन्होंने 50 प्रथम श्रेणी मैचों में 134 विकेट हासिल किए और इसके साथ ही 1536 रन भी बनाए। वहीं 11 लिस्‍ट ए मैचों में उनके नाम 104 रन बनाने के अलावा 14 विकेट भी शुमार हैं। इसके साथ ही, जडेजा ने 105 मैचों में बीसीसीआई की तरफ से मैच रेफरी की भूमिका भी निभाई। इनमें 53 फर्स्‍ट क्‍लास मैच शामिल रहे तो 18 लिस्‍ट ए मैचों में भी उनके कंधे पर यह जिम्मेदारी आई। इसके अलावा 34 टी20 मुकाबलों में भी मैच रेफरी रह चुके हैं।

 राजेन्द्र सिंह जडेजा ने इन सब के अलावा सौराष्‍ट्र की अंडर-23 टीम के कोच की भूमिका भी निभाई। जडेजा सौराष्‍ट्र क्रिकेट एसोसिएशन के सेलेक्‍टर और टीम मैनेजर भी रह चुके हैं। रवि शास्त्री के अलावा बीसीसीआई के पूर्व सचिव निरंजन शान ने भी जडेजा के जाने पर शोक व्‍यक्‍त करते हुए कहा, वो असाधारण काबिलियत वाले क्रिकेटर थे। वहीं सौराष्‍ट्र क्रिकेट एसोसिएशन के अध्‍यक्ष जयदेव शाह ने कहा, ये क्रिकेट जगत के लिए अपूर्णनीय क्षति है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.