जानवरों की कोख से इंसानों के बच्चे पैदा करवाना चाहते हैं इस देश के वैज्ञानिक, हो चुका है शोध शुरू

आपने कभी सोचा है अगर जानवर की कोख से इंसान के बच्चे पैदा होंगे तो क्या होगा? इस सवाल का जवाब जानने के लिए जापान के स्टेल सेल वैज्ञानिक ने एक अलग तरह का शोध शुरू कर दिया है। वहीं इस शोध के लिए जापान की सरकार भी आर्थिक रूप से इसके लिए साहयता प्रदान कर रही है। इस शोध में वैज्ञानिक इस बात का अध्यन करने वाले हैं कि किस तरह जानवरों की कोख में इंसानी कोशिकाओं का विकास हो सकता है। आसान भाषा में समझने की कोशिश करें तो जानवर एक सरगेटिव माँ की तरह इस अध्ययन का हिस्सा होंगे, जो अपनी कोख में इंसान के बच्चों को पालेंगे।  

कहा जाता है आवश्यकता ही आविष्कार की जननी है। दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने इंसानी आवश्यकता की आपूर्ति के लिए कई आविष्कार किये। इसी कड़ी में जापान के वैज्ञानिक हिरोमित्सू नकॉची जानवरों पर एक अलग ही तरह का प्रयोग करने वाले हैं। इसके साथ ही जापान की सरकार भी उनके साथ खड़ी होती हुई दिखाई दे रही है, ना सिर्फ उन्हें जानवरों के साथ यह शोध करने की इजाजत दी गयी बल्कि उन्हें इसके लिए आर्थिक सहायता भी मुहैया करवाई जा रही है। हिरोमित्सू नकॉची फिलहाल अपनी टीम के साथ इस अनूठे प्रयोग को पूरा करने में लग गए हैं। 

हिरोमित्सू नकॉची इस प्रयोगे के माध्यम से सबसे पहले चूहों के एम्ब्रियों में मानव कोशिका को विकसित करेंगे। इसके बाद इन एम्ब्रियों को सरोगेट जानवरों के गर्भ में प्रत्यारोपण किया जाएगा। यहां आपको बता दें इस शोध का मक़सद इंसानी शिशु का निर्माण करना नहीं है बल्कि ऐसे पशुओं का निर्माण करना है जिनमें इंसानी कोशिकाएं हो। जिससे अगर जरूरत पड़े तो इन जानवरों के अंगों को इंसानों के शरीर में प्रत्यारोपित किया जा सके। 

गौरतलब है कि जापान से पहले भी कई देशों के सामने इस तरह के प्रोजेक्ट आये मगर सबने इसे कुदरत के साथ खिलवाड़ माना। अमेरिका में भी साल 2015 से पहले इस तरह के प्रयोग करने की कोशिशें कर रही थी जिसे कई संस्थानों ने गलत माना और इसकी मंजूरी नहीं दी गयी। मगर जापान कुदरत को चुनौती देते हुए नज़र आ रहा है, और उसके वैज्ञानिक इस शोध में जुट गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.