आंटी कहने वालों पर भड़की शिल्पा शेट्टी की बहन शमिता, 43 साल की कुंवारी एक्ट्रेस ने कह दी यह बातें

बॉलीवुड एक्ट्रेस शमिता शेट्टी काफी समय से बड़े पर्दे से दूर हैं लेकिन अक्सर किसी ना किसी बात को लेकर वो चर्चा में बनी रहती हैं। शमिता बिग बॉस ओटीटी और फिर बिग बॉस सीजन 15 में नजर आईं थीं। सीजन 15 में वो टॉप 5 में शामिल हुईं थीं लेकिन इस शो की विजेता नहीं बन पाईं थीं। शमिता का नाम भी उन एक्ट्रेसेज में शामिल हैं जिन्हें एज शेमिंग का शिकार होना पड़ता है।

बिग बॉस के घर में भी उन्हें कई बार ये परेशानी झेलनी पड़ी थी और सोशल मीडिया पर भी वो अक्सर एज शेमिंग का शिकार हो जाती हैं। इन सब बातों को लेकर हाल ही में एक्ट्रेस ने एक खास इंटरव्यू दिया है। एक साइट को दिए इंटरव्यू में शमिता ने बहुत सारे सवालों के जवाब दिए और अपनी भावनाओं का भी इजहार किया। 

एज शेमिंग का शिकार होती हैं शमिता

बिग बॉस में शमिता को अक्सर आंटी कहकर बुलाया गया और कई बार वो एज शेमिंग का शिकार हुईं। इस पर एक्ट्रेस ने कहा कि जिन शब्दों का इस्तेमाल घर के अंदर हुआ था उन्हें अब वो शब्द बाहर भी सुनने को मिलते हैं। मैं कुछ वक्त तक दुखी थी। जो लोग ऐसी बाते कर रहे थे वो पढ़े लिखे लोग थे। बहुत आसानी से वो ये भूल जाते हैं कि वो क्या मैसेज दे रहे हैं बाहर। उन लोगों की वजह से जिस शब्द का इस्तेमाल घर के अंदर मेरे लिए किया गया था अब वो बाहर इस्तेमाल हो रहा है। मुझे समझ नहीं आ रहा था कि ऐसी चीजें क्यों कही गईं थीं क्योंकि वहां कुछ लोग मेरी उम्र के थे।

शमिता उस वक्त बिग बॉस ओटीटी का हिस्सा बनी थीं जब उनके जीजा और शिल्पा शेट्टी के पति राज कुंद्रा को अडल्ट फिल्म बनाने और एप द्वारा मुहैया कराने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। उस दौरान शेट्टी और कुंद्रा परिवार काफी मुसीबतों में था। ऐसे में उस वक्त उन्होंने ओटीटी में जाने का फैसला क्यों लिया? इस पर शमिता ने कहा कि उनका परिवार चाहता था कि वो इस शो का हिस्सा बनें। उन्होंने कहा- मैंने इस शो में आने की कमिटमेंट बहुत पहले दे दी थी और मेरा परिवार भी यही चाह रहा था कि मैं वहां जाऊं और रहूं।

करियर और डिप्रेशन पर खुलकर बोलीं शमिता

शमिता का करियर शिल्पा की तुलना में काफी लंबा नहीं रहा और ना ही ज्यादा सफल रहा। इस पर एक्ट्रेस ने कहा कि- हर कोई अपनी अलग अलग किस्मत लेकर दुनिया में आता है। मुझे अच्छी फिल्में और अच्छे रोल ना मिलने का अफसोस है। जब आप फिल्मी बैकग्राउंड से आते हैं तो चीजें आपके लिए और भी मुश्किल भरी हो जाती हैं। जब आपके परिवार का कोई सदस्य फिल्मों में होता है तो आपकी तुलना हमेशा उससे की जाती है जबकि दो शख्स एक जैसे नहीं हो सकते।

इसके साथ ही शमिता ने डिप्रेशन पर भी बातें कीं। उन्होंने कहा- एक वक्त ऐसा था जब मुझे पता ही नहीं था कि मेरे साथ हो क्या रहा है। मैं बहुत अच्छे रिलेशन में थी और वो शख्स मुझसे कहता था कि शमिता तुम्हारे साथ कुछ सही नहीं तल रहा है। जब आप उस दौर से गुजरते हैं तो आपको खुद पता नहीं होता कि क्या हो रहा है। मेरे परिवार ने उस वक्त मेरा बहुत सपोर्ट किया। डिप्रेशन से लड़ने का पहला स्टेप होता है ये मानना कि आखिर हो क्या रहा है।मुझे अच्छा काम नहीं मिला इसलिए मैं डिप्रेशन में थीं। लोगों को लगता है जो इससे गुजरते हैं वो कमजोर होते हैं लेकिन असल में जो इससे लड़कर बाहर आते हैं वही मजबूत होते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.