सुशांत सिंह राजपूत की मैनेजर के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने दिया बड़ा फैसला, कहा CBI जांच चाहिए तो…

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद से ही उनकी मैनेजर रही दिशा सालियन की मौत पर भी सवाल उठ रहे हैं। कई लोगों का दावा है कि दोनों की मौत में कोई लिंक जरूर है। एक ओर जहां सुशांत का केस सीबीआई हैंडल कर रही है वहीं दिशा की मौत की जांच मुंबई पुलिस के हाथ में है। पिछले कुछ महीनों से दिशा की मौत में भी सीबीआई जांच की मांग की जा रही थी।

इसी के चलते दिशा सालियान की मौत के मामले की CBI जांच करवाने की अर्जी पर सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका दायर की गई थी। याचिका में सुशांत और दिशा की मौत को इंटरलिंक बताया गया है। सुप्रीम कोर्ट ने इसी याचिका पर फैसला सुनाते हुए याचिकाकर्ता को हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाने को कहां है।

हाईकोर्ट में की जाए याचिका दायर

दिशा सालियन केस के लिए दायर की गई याचिका पर सुप्रीम कोर्ट का कहना है कि इस मामले में सीबीआई जांच के लिए याचिका हाईकोर्ट में दायर की जानी चाहिए। मुख्य न्यायाधीश एसए बोबडे, न्यायमूर्ति एएस बोपन्ना और वी रामासुब्रमणियन की पीठ ने इस मामले पर सोमवार को अपना फैसला सुनाया है। पीठ का कहना है कि हाईकोर्ट ने इस केस से जुड़े और भी मामलों की सुनवाई की है। इसीलिए उन्हें इस केस के बारे में सब मालूम है।

पीठ ने याचिकाकर्ता को यह भी कहा है कि अगर वह हाईकोर्ट के फैसले से संतुष्ट नहीं होते हैं तो उसके बाद वह फिर से सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर कर सकते हैं। लेकिन अभी उन्हें अपनी याचिका सुप्रीम कोर्ट से निकालकर हाईकोर्ट में दायर करनी चाहिए।

पुलिस की रिपोर्ट भी जमा करने की है मांग

लोगों का मानना है कि पुलिस ने दिशा के केस में बहुत लापरवाही बरती है। इसी वजह से उनके लिए भी सीबीआई जांच की मांग की जा रही है। बता दे कि सुप्रीम कोर्ट में सीबीआई जांच के लिये यह जनहित याचिका पुनीत कौर ढांडा ने दायर की थी। इस याचिका में उन्होंने यह मांग भी की है कि मुंबई पुलिस के अधिकारियों को इस मामले की जांच की पूरी रिपोर्ट कोर्ट में जमा करने का निर्देश दिया जाए।

क्योंकि यह बताया गया है कि उनकी केस फाइल गायब है या हटा दी गई है। ढांडा ने कोर्ट से अपील की है कि अगर सुप्रीम कोर्ट को भी इस मामले में पुलिस की लापरवाही दिखाई देती है तो आगे की जांच के लिए मामले को CBI को भेजा जाना चाहिए।

दोनों की मौत है इंटरलिंक

सुप्रीम कोर्ट में दाखिल याचिका में दावा किया गया है कि सुशांत सिंह राजपूत और उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की मौत इंटरलिंक है। क्योंकि दोनों की ही मौत संदेहास्पद परिस्थितियों में हुईं। याचिका में लिखा गया है कि सुशांत सिंह राजपूत और दिशा दोनों ही अपने करियर में अच्छे मुकाम पर थे। वहीं दोनों के ही पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।

ऐसे में उनकी आत्महत्या पर संदेह करना गलत नहीं होगा। बता दे कि 28 वर्षीय दिशा सालियान की 8 जून को मुंबई के मलाड स्थित एक इमारत की 14वीं मंजिल से गिरने के बाद मौत हो गई थी। बताया जाता है कि दिशा की मौत से सुशांत बहुत परेशान हो गए थे। फिर कुछ दिन बाद ही 14 जून को 34 वर्षीय सुशांत का शव मुंबई के बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में फंदे से लटका मिला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.