सुलझने वाली है सुशांत केस की गुत्थी, अब साजिश की अंतिम कड़ी तक पहुंचाएंगे ‘गप्पी’

माना जा रहा है कि बस अब कुछ ही दिनों में सुशांत केस की गुत्थी सुलझने वाली है। दरअसल मामले की जांच कर रही तीनों एजेंसियां यानी की ED, CBI और NCB गप्पी की तलाश में जुट गई है। यह आंकलन लगाया जा रहा है कि यह गप्पी ही इस केस को अंजाम तक पहुंचाने में मदद करेंगे। गौरतलब है कि सुशांत की बहन श्वेता सिंह कीर्ति ने भी इस केस में गप्पी के यानी की ड्रग्स पैडलकर की भूमिका होने के संदेह जताए थे। वहीं जांच एजेंसियों को भी इस एंगल पर अब उम्मीद की रोशनी दिखाई दे रही है। 

बता दें कि रिया और कथित ड्रग्स डीलर की चैट सार्वजनिक होने के बाद से ही नारकोटिक्स डिपार्टमेंट की भी इस केस में इंट्री हो गयी थी। अब एजेंसी ने रिया सहित 5 लोगों के खिलाफ एनडीपीएस के तहत मामला दर्ज कर लिया है। इसके अलावा इस केस में पूछताछ का दौर भी शुरू हो चुका है, इसके अंतर्गत कई लोगों को एजेंसी समन भेज चुकी है। दरअसल इस केस को अगर ड्रग्स एंगल से देखा जाए तो ड्रग्स किससे मंगाई जाती थी, कितनी मंगाई जाती थी, किस लिए मंगाई जाती थी और किसके लिए मंगाई जाती थी। अगर इन सवालों के जवाब मिल जाते हैं तो यह केस सिलसिलेवार ढंग से खुलता नज़र आएगा। वहीं यह भी आंकलन लगाया जा रहा है कि CBI के बाद नारकोटिक्स डिपार्टमेंट भी रिया को पूछताछ के लिए बुला सकता है। 

जैसा कि आपको पता ही है फिलहाल केंद्रीय जांच एजेंसी इस केस में रिया से पूछताछ कर रही है। वहीं इससे पहले रिया ने एक निजी चैनल को दिए इंटरव्यू में सुशांत के डिप्रेशन पर बात की थी। जांच एजेंसी ने शनिवार को हुई पूछताछ में रिया से उसके इस बयान का आधार पूछा। 

वहीं केंद्रीय जांच एजेंसियां इस पूरे मामले को अब ड्रग्स एंगल से खंगालने की कोशिश में लगी हुई है। बताते चलें कि सुशान्त की बहन ने अभी हाल ही में एक व्हाट्सअप चैट के ग्रुप का स्क्रीन शार्ट साझा किया जिसमें रिया और शौविक किसी गप्पी से डूबी की मांग कर रहे हैं। बता दें कि डूबी गांजे से भरी सिगरेट को कहते हैं। एजेंसी का मानना है कि यह स्क्रीन शार्ट मुख्य आरोपी तक पहुंचाने में मदद-गार साबित होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.