रिया का बड़ा दावा : सुशांत को सताता था गिरफ्तारी का डर, इन दो तरीकों से छुपाते थे ड्रग

नारकोटिक्स डिपार्टमेंट फिलहाल बॉलीवुड के लिए मुसीबतों की सौगात के कर आया है। दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपुत मामले में ड्रग एंगल की जांच कर रही नारकोटिक्स डिपार्टमेंट को “बॉलीवुड की ड्रग गैंग” के खिलाफ कई अहम सुराग मिले हैं। वहीं रिया चक्रवर्ती भी ड्रग का सेवन करने और एक्टर को मुहैया करने के आरोप में भायखला की जेल में कैद है। उन पर आरोप है कि उनका संबंध ड्रग पैडलर्स से था, तथा वो ही अपने भाई शौविक और दीपेश सावंत को पैसे दे कर ड्रग लाने के आदेश देती थी। 

जेल में रिया से नारकोटिक्स डिपार्टमेंट की टीम घंटो पूछताछ करती है। जिसमें वे कई बड़े खुलासे कर रही है, वहीं सुशांत के बारे में भी कई दावे कर रही है। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार हाल ही में रिया ने सुशांत को ले कर कहा है कि वे गिरफ्तारी के डर से बहुत डरते थे। यही वजह है कि वे ड्रग को कभी भी अपने पास नहीं रखते थे।

https://www.instagram.com/p/B_y5I0iDxlF/?igshid=1rhabuqqu9dv4

नारकोटिक्स डिपार्टमेंट के सामने रिया ने कहा है कि सुशांत कभी भी अपने पास ड्रग नहीं रखती थी। ड्रग या तो हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा के पास रहता था या दीपेश सावंत के पास रहता था। जब भी सुशांत को ड्रग की जरूरत होती थी तब यही दोनों उन्हें रोल करके देते थे। रिया चक्रवर्ती के इस बयान की पुष्टि सामने आई ड्रग चैट भी करती है, जिसमें वो ग्रुप में मैसेज करती हैं भैया ज्वाइंट रोल कर दो। इसके अलावा दीपेश सावंत ने भी इस बात को स्वीकार किया है कि वे सुशांत को ज्वाइंट रोल करके देते थे। 

https://www.instagram.com/p/B_U1WWijwSA/?igshid=n7kwlbbho5b2

रिया ने अपने बयान में कहा है कि सुशांत गिरफ्तारी से बहुत डरते थे। वहीं रिया और सुशांत अलग अलग गाड़ी में बाहर निकला करते थे।  पुलिस और नारकोटिक्स डिपार्टमेंट से बचने के लिए यह इन दोनों की गाड़ियों के पीछे जो गाड़ी रहती थी उसमें ड्रग को रखते थे। जिससे अगर पुलिस या नारकोटिक्स डिपार्टमेंट की टीम पकड़े तो गाड़ी फंसे और यह दोनों बच जाए। 

https://www.instagram.com/p/By9qdQJjDH4/?igshid=3b6zwuflq3o5

इसके अलावा रिया कहती है कि उनको इतना ज्यादा डर लगता था कि वे ड्रग के लिए ड्रग पैडलर्स से बात भी अपने फोन से नहीं करते थे। या तो वे मेरे फोन का उपयोग करते थे, या शौविक का या अपने स्टाफ के किसी मेंम्बर को ड्रग लाने का कह देते थे। रिया ने यह भी कहा है कि फिलहाल सुशान्त का फोन उनके पास नहीं है इसलिए इस बारे में वो और कुछ नहीं कह सकती। 

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.