सुशांत के दोस्त गणेश ने दी चेतावनी, कहा – हमारी यह बात नहीं मानी तो करेंगे CBI मुख्यालय का घेराव

14 जून को सुशांत को गुज़रे एक साल का वक्त हो जाएगा। पिछले साल यानी 14 जून 2020 के ही दिन सुशांत के शरीर को निर्जीव अवस्था में उनके मुम्बई स्थित घर पर देखा गया था। सुशांत सिंह राजपूत का यूं अनायास बिना कुछ लिखे चला जाना काफी संदिग्ध यही वजह है कि इस मामले को मुम्बई पुलिस से छीन कर इसे केंद्रीय जांच एजेंसियों को सौंप दिया गया। जिसमें CBI, NCB और ED जैसी एजेंसियां शामिल हैं। हालांकि इसके बाद भी सुशांत मामले में कोई पुख्ता सबूत जांच एजेंसियों को नहीं मिल पाए हैं। इसके अलावा सुशांत के लिए लगातार इंसाफ की गुहार लगाने वाले उनके दोस्त गणेश ने भी CBI को एक आईटीआर दी थी जिसका उनके पास अब तक कोई जवाब नहीं आया है। 

गौरतलब है कि सुशांत के चाहने वाले, परिवार वाले और दोस्तों ने उनके जाने के बाद से ही लगातार उनके लिए इंसाफ की मांग कर रहे हैं। सभी सुशांत मामले में उलझन को समझना चाहते हैं और जल्द से जल्द इस मामले का पूरा खुलासा चाहते हैं। ऐसे में दैनिक भास्कर की रिपोर्ट की माने उसके अनुसार सुशांत के दोस्त गणेश चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर 14 जून तक उनको जवाब नहीं दिया गया, तो वे CBI मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन करेंगे।

बता दें कि अभी कुछ दिनों पहले ही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो द्वारा सुशांत के दोस्त सिद्धार्थ पीठानी को हैदराबाद से गिरफ्तार किया गया है। सिद्धार्थ हाल ही में 4 दिन के लिए NCB की कस्टडी में है। सिद्धार्थ पीठानी की गिरफ्तारी पर अपनी बात रखते हुए गणेश ने कहा कि सिद्धार्थ की उपस्थिति इस हिसाब से तो ड्रग एंगल में ही फंस कर रह जायेगी। उनका मानना है कि CBI को भी सिद्धार्थ के खिलाफ कार्यवाही करनी चहिए क्योंकि वो सुशांत के रूममेट थे। 

इतना ही नहीं सुशांत सिंह के दोस्त गणेश ने सीबीआई की चुप्पी पर भी सवाल उठाए, उन्होंने कहा कि जांच टीम को चाहिए कि वे इस मामले पर खुल कर अपना पक्ष रखे और बताए कि सुशांत का मामला संदिग्ध क्यों है। साथ ही गणेश ने यह भी आरोप लगाया कि जांच टीम मामले में बड़ी ढील दिखा रही है, अभी तक उन्होंने चार्जशीट भी फाइल नहीं की है। साथ ही उन्होंने अभी तक की जांच में क्या कुछ निकल कर आया इस बात को भी सार्वजनिक करने की मांग की है। 

लोकेन्द्र शर्मा प्राधान सम्पादक न्यूज मेनिया पिछले 10 सालों से वेब समाचार की दुनिया में कार्यरत हैं। आपने Wittyfeed, Laughing Colours, MP news, News Trend, Raj express, Ghamasan news जैसी संस्थाओं में अपनी सेवाएं दी हैं। तथा वर्तमान में आप हमारी संस्था के साथ जुड़ कर लोगों के इंटरटेनमेंट का ध्यान रख रहे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.