मोहम्मद शामी का सामना करने के लिए पत्नी हसीन बनी माँ काली, अल्लाह से मांगी यह शक्तियां

भारतीय क्रिकेटर मोहम्मद शमी की पत्नी हसीन जहां सुर्खियों में बनी रहती हैं। हसीन जहां ने मोहम्मद शमी के ऊपर घरेलू हिंसा का आरोप लगाया था। उनके इस आरोप ने सबको चौंका दिया था। मोहम्मद शमी के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने के बाद से ही हसीन जहां अपनी बेटी के साथ से अलग रह रही थी। इस विवाद के बाद से ही हसीन जहां को लेकर बहुत सी बातें सोशल मीडिया में वायरल हुई।

पिछले दिनों यह खबर आई थी कि हसीन जहां पहले से शादीशुदा थी। वहीं सोशल मीडिया पर भी बहुत सी पोस्ट को लेकर उन्हें विवादों का सामना करना पड़ा। अब हसीन जहां की एक इंस्टाग्राम पोस्ट पर सोशल मीडिया पर बहुत बवाल हो रहा है। हसीन जहां ने अपनी पोस्ट में अल्लाह से अपने पति का सामना करने के लिए देवी काली जैसी शक्ति मांगी है। उनकी इस पोस्ट के बाद सोशल मीडिया यूजर्स उन पर अपना गुस्सा दिखा रहे हैं।

धार्मिक सीरियल की क्लिप की शेयर

हसीन जहां ने अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर एक धार्मिक सीरियल की वीडियो क्लिप शेयर की है। बता दे कि उस वीडियो क्लिप में काली मां कहती हुई नजर आ रही है कि, एक पति को हमेशा अपनी पत्नी का साथ देना चाहिए। इसके साथ ही काली मां बता रही है कि एक पति में क्या खूबियां होनी चाहिए। इस वीडियो क्लिप को शेयर करते हुए हसीन जहां ने एक कैप्शन भी लिखा है। हसीन जहां ने लिखा है कि, वह देवी काली की पूजा नहीं करती हैं। लेकिन उनकी देवी काली में हमेशा से आस्था रही है।

वह हमेशा उन्हें मानती है और उनके जैसी ही शक्ति चाहती है। इसके साथ ही उन्होंने अल्लाह से अपने पति का सामना करने के लिए देवी काली के समान शक्ति मांगी है। अपनी इस पोस्ट के जरिए उन्होंने अपने पति मोहम्मद शमी पर तंज कसा है। हसीन जहां ने मोहम्मद शमी पर उनके साथ मारपीट करने का आरोप लगाया था। इसी वजह से उन्होंने उन्हें दिखाने के लिए यह वीडियो शेयर किया है।

सोशल मीडिया पर हो गया बवाल

बता दे कि हसीन जहां ने मोहम्मद शमी के ऊपर घरेलू हिंसा का मामला दर्ज करवाया था। तब से ही क्रिकेटर के समर्थकों ने हसीन जहां की निंदा की थी। इसके बाद उनकी जिंदगी से जुड़े कई सच लोगों के सामने आए। जिसके बाद वह लोगों के निशाने पर आ गई। वहीं अब उनकी इस पोस्ट के बाद लोगों का गुस्सा जमकर उनके ऊपर फूट रहा है।

उनकी पोस्ट के कमेंट में बहुत से लोगों ने उन्हें गलत कहते हुए मोहम्मद शमी का सपोर्ट किया है। लोगों का मानना है उन्हें इस तरह की धार्मिक वीडियो को पोस्ट करते हुए किसी पर इल्जाम नहीं लगाने चाहिए‌। देवी काली लोगों की भावनाओं और आस्था से जुड़ी हुई हैं। वह उनके नाम का झूठे आरोप लगाने के लिए इस्तेमाल नहीं कर सकती।

Leave a Reply

Your email address will not be published.