बड़ी ही दिलचस्प है छोटे से अजय की योगी आदित्यनाथ बनने की कहानी, बचपन की फोटों में तो पहचानना भी है मुश्किल

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सुर्खियों में बने रहते हैं। 2017 में उन्होंने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी। इसके बाद से ही उन्होंने उत्तर प्रदेश में धर्म से जुड़े बहुत से फैसले लिए। जिसकी वजह से उन्हें कई धर्म कट्टरवादियों का सामना करना पड़ा। सूट बूट से अलग नारंगी रंग के लिबास में रहने वाले यह मुख्यमंत्री पूरे देश के सबसे चर्चित मुख्यमंत्रियों में से एक है। योगी आदित्यनाथ अपनी पढ़ाई के दौरान ही सांसारिक मोह माया त्याग कर सन्यासी बन गए थे। आज हम आपको उनकी कुछ पुरानी तस्वीरें दिखाने जा रहे हैं। जो तस्वीरें उनके जीवन की पूरी कहानी बयां करती है। इन तस्वीरों में योगी आदित्यनाथ को पहचानना बहुत मुश्किल है।

अजय सिंह नेगी से बने थे योगी आदित्यनाथ

योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1972 को उत्तर प्रदेश के पौड़ी जिले के पंचूर गांव में हुआ था। यह गांव अब उत्तराखंड का हिस्सा है। बता दें कि बचपन में उनका नाम अजय सिंह नेगी था। उन्होंने टिहरी के गजा के स्थानीय स्कूल में ही अपनी प्राथमिक शिक्षा हासिल की। स्कूल के बाद उन्होंने कोटद्वार के गढ़वाल यूनिवर्सिटी से गणित में बीएससी किया। बता दे कि ग्रेजुएशन की पढ़ाई करते हुए ही वह एबीवीपी से जुड़े थे। इसके बाद 1993 में गणित में एमएससी की पढ़ाई के दौरान वह गुरु गोरखनाथ पर रिसर्च करने गोरखपुर आए थे। यहां गोरक्षनाथ पीठ के महंत अवैद्यनाथ की नजर अजय सिंह पर पड़ी। अजय सिंह महंत की बातों और शिक्षा से बहुत प्रभावित हुए। इसके बाद 1994 में वह सांसारिक मोहमाया त्यागकर पूरी तरह से संन्यासी बन गए। जिसके बाद उनका नाम योगी आदित्यानाथ हो गया।

26 साल की उम्र में जीता था पहला चुनाव 

योगी आदित्यनाथ सबसे पहले गोरखपुर से चुनाव भाजपा प्रत्याशी के तौर पर लड़े थे। उनके पहले ही चुनाव में उन्हें जीत हासिल हुई। बता दे कि तब उनकी उम्र महज 26 साल थी। इसके बाद वह पांच बार गोरखपुर के सांसद बने। हालांकि इसी बीच उन पर कई आपराधिक मामले भी दर्ज हुए। 2007 में जब  गोरखपुर में दंगे हुए थे तब योगी आदित्यनाथ को मुख्य आरोपी बनाया गया था। जिसके चलते उनकी गिरफ्तारी भी हुई थी। इस पर उनके समर्थकों ने बहुत बवाल भी किया था। इन सब के बावजूद उनकी लोकप्रियता को देखते हुए मार्च 2017 में उत्तर प्रदेश के बीजेपी विधायक दल की बैठक में योगी आदित्यनाथ को विधायक दल का नेता चुनकर मुख्यमंत्री का ताज सौंप दिया गया। 

पशुओं से है बहुत प्रेम

योगी आदित्यनाथ को जानवरों से बहुत प्यार है। उनके पास एक पालतू कुत्ता है। इसके अलावा भी जहां भी वे जाते हैं वहां वे जानवरों से बहुत प्यार करते हैं। आए दिन सोशल मीडिया पर उनकी पशुओं के साथ तस्वीरें वायरल होती रहती हैं। कभी वह गोद में बंदर को लेकर बैठे दिखते हैं तो कभी कुत्ते को। वही एक तस्वीर में तो वह बाघ के शावक को गोद में लेकर प्यार करते हुए दिखाई दिए। वह तस्वीर बैंकॉक के एक जू की बताई जा रही है। उनकी तस्वीरों में उनका पशु प्रेम साफ झलकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.